जरा याद करो कुर्वानी ३ साल पूरा सपना अधुरा

२०७५/०५/२३

रवि कुमार साह,

क्या आपको पता है आज कौन दिन है? जरा याद करिए आज हि के दिन आज से ३ साल पहले मधेश आन्दोलन चल रहा था। चारो ओर बन्द हडताल था। मधेसी लोग अपने अधिकार के लिये नेपाली खसवादी सरकार से लड रहे अपनी हक अधिकार को संविधान मे लिखने के लिये शान्तिपुर्ण आन्दोलन कर रहे थे लेकिन ये नेपाली शासको ने जुर्म पे जुर्म कर रहे थे इसी युद्ध के दौरान जलेश्वर मे संग्राम छिरा था और जनता खाली हाथ और ए शासक वर्ग बन्दुक लेकर हमारे चार मधेसी वीर पुत्रो को निर्ममताके साथ हत्या कर दिया। चार वीर सपुतो ने शहादत प्राप्त कि।जिनने रामविवेक यादब , अ्मित कापर, रोहन चौधरी और बिरेन्द्र बिच्छा जि थे।

इससे ठिक एक दिन पहले(२०७२/०५/२२) कि घटना थि मेरे लगायत मेरे २५ मित्रो जिसमे सहिद रामविवेक भी थे हम २५ लोग लाठी जुलुस निकाले थे । और ये जुलुस महोत्तरीसे शुरु होकर फुलहट्टा होते हुए जलेश्वर नगर को परिक्रमा करके जिल्ला प्रशासन कार्यालय महोत्तरी जलेश्वर होकर जा रहे थे वहाँ पुलिसो से कुछ कहासुनी हुइ जिसमे पुलिसो ने लाठी रख कर जाने को कहा हम लोग नही मान रहे थे लेकिन हमारी संख्या कम होने से हम लोग लाठी वही रख दिये उसी दौरान रामविवेक को पुलिसोने सायद टारगेट किया क्यु कि हमारी अगुवाइ वोहि कर रहे थे।

आज ३ साल हो गये मधेस आन्दोलन को मगर अभी तक कोइ सुनवाइ नहि है संविधान संशोधन का।

चारो वीर सहिद को

🌹🌹🌹🌹हार्दिक श्रद्धाञ्जली 🌹🌹🌹🌹

मलेसियामा रहेका Ncell ग्राहकहरु घरमा फ्री फोन गर्नुहोस

सबभन्दा पहिले मेरो तर्फबाट HAPPY CHRISHTMAS. र Chrishtmas gift यो रहेछ।

के तपाईं मलेसियामा हुनुहुन्छ? के तपाइको Ncell नम्बर roaming मा छ?

त्यसो भए यश क्रीसमस घरमा फ्री कुरा गर्नुहोस। फ्री मा फोन गर्न 977 डायल गरि १० अंकको नम्बर डायल गरि घरमा मज्जाले कुरा गर्नुहोस।

पहला बाजि हार गया: रवि कुमार साह

17 Dec 2017, Monday

Malaysiaa

दुनिया को Be happy will happy कहने बाले आज खुद हि इतने sad और मजबुर है कि अपने घरवालो को भी फोन नहि कर सकता ।

लोग कहते थे कि जितना बडा सोचोगे उतना बडा बनोगे मगर आज ऐसी हालात मे हु कि किसीको बता भी नहि सकता । आज २० दिन से कैसे जि रहा हु मै खुद हि जानता हु।

अक्सर मेरी माँ कहती थी “बेटा दुनिया मे खुदको मत ढूढो, खुद मे दुनिया ढूँढो”। आज वो बात समझ मे आयी है। खुद कि जिद्द्पे डेढ (१.५)लाख खर्च करके मलेसिया तो आये लेकिन color blindness होने के कारण से मेडिकल मे फेल हो गये।

जिन्दगीमे पहली बार घर से बाहर निकले थे कुछ काम करने को वो भी ना मिला। १.५ लाख जो कर्ज लेकर आए थे वो कैसे चुकाउँगा। पहला बाजि जिन्दगी का हार गया हु आज।

दिपावलीका हार्दिक शुभकामना ….

image

कार्तिक का महिना मौसमका बहार,
धमाको की स्टार्टिङ पटाखे कि बौछार,
सुरज कि किरणे अपनो का प्यार,
आपको मिले खूसिया अपार,
सजाइए आप भी अपना घरबार,
लक्ष्मी माँ आएगी आपके द्वार,
करना उनका स्वगात सत्कार,
तभी तो मिलेगी धन अपार,
शुभकामना हो आपको दिपावलीका त्योहार।

Happy Father´s Day

image

जिन्होने मुझे इस दुनियामे लाया,
पहलीबार हमे गलेसे लगया,
उँगली पकडके जिन्होने चलना सिखाया,
खूदकि निन्द उडाकर जिन्होने हमको सुलाया,
कँधोपे बैठाकर जिन्होने हमको घुमाया,
जिनका हमने सँस्कार है पाया,
जिनका है मुझपर साया,
खुद नही खा कर हमको खिलाया,
दर्द उठाकर जिन्होने हमको पढाया,
जिन्होने मुझे दिखाइ है जिन्दगी कि राह,
वही तो है मेरे पापा श्री लक्ष्मी नरायण साह। Continue reading “Happy Father´s Day”